Current Affairs

ऑक्सीजन की कमी को लेकर मुख्यमंत्री शिवराज ने की महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री से बात

भोपाल, द टेलीप्रिंटर। ऑक्सीजन की आपूर्ति रोके जाने पर मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से फ़ोन पर बात की है। शिवराज ने उद्धव से कहा है कि संकट के समय ऑक्सीजन की सप्लाई नहीं रोकी जानी चाहिए। वहीं उद्धव ने शिवराज को आश्वस्त किया है कि वह पूरा प्रयास करेंगे।

बता दे कि महाराष्ट्र के प्लांटों से मध्यप्रदेश में रोजाना ऑक्सीजन की आपूर्ति होती है, लेकिन अब महाराष्ट्र सरकार ने ऑक्सीजन की आपूर्ति पर रोक लगा दी है। दूसरी तरफ प्रदेश में अगस्त महीने में हर दिन 90 टन ऑक्सीजन की डिमांड रही है। वहीं आने वाले समय में एक्टिव केस में इजाफा होने पर ऑक्सीजन की डिमांड बढ़ सकती है।

हालांकि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश में ऑक्सीजन की नहीं होगी। उन्होंने ट्वीट करके जानकारी दी है कि, ‘प्रदेश में जो प्लांट 50-60% क्षमता पर चल रहे थे, मैंने उनको पूर्ण क्षमता के साथ चलाने का आग्रह किया है। बाबई के मोहासा में आइनॉक्स कम्पनी के प्लांट को मैंने स्वीकृत किया है, जो 6 महीने में 200 टन ऑक्सीजन बनाना प्रारंभ कर देंगे। ऑक्सीजन की कमी न रहेगी। हरसंभव व्यवस्था करेंगे।‘

आगे उन्होंने कहा है कि, ‘मध्यप्रदेश में हम 30 सितंबर तक 150 टन ऑक्सीजन की व्यवस्था कर लेंगे। महाराष्ट्र से मध्यप्रदेश को केवल 20 टन ऑक्सीजन मिलती थी, जो आइनॉक्स कंपनी करती थी। अब वही कंपनी मध्यप्रदेश को इस 20 टन ऑक्सीजन की सप्लाई गुजरात और उत्तर प्रदेश से करेगी। ऑक्सीजन की कमी का विषय महत्वपूर्ण था, इसलिए मैंने व्यवस्थाओं की समीक्षा की। हमारे यहां प्रारंभ में ऑक्सीजन की उपलब्धता केवल 50 टन थी, जिसे बढ़ाकर 120 टन कर दिया गया है। मैं प्रदेश की जनता को आश्वस्त करता हूं कि ऑक्सीजन की कोई कमी नहीं रहेगी।‘

Show More

Related Articles

Back to top button