Special Stories Paid

आर्थिक संकट से जूझ रहे केमिस्ट्री के शिक्षक ने लगाया सब्जी का ठेला

शिवपुरी, द टेलीप्रिंटर। कोरोना संकट में शिक्षकों के सामने आर्थिक संकट उत्पन्न हो गया है। सरकार की तरफ से भी शिक्षकों का आर्थिक संकट दूर करने के कोई प्रयास नहीं किए गए हैं। ऐसे में इसके विरोध में प्राइवेट कोचिंग एसोसिएशन के अध्यक्ष उमेश श्रीवास्तव ने शिवपुरी में ठेले पर सब्जी रखकर बेची। उनकी मांग हैं कि सरकार को शिक्षकों की भी सुध लेनी चाहिए।

दरअसल कोरोना संकट के कारण पिछले तीन महीने से भी अधिक समय से स्कूल और कोचिंग संस्थान बंद हैं। ऐसे में प्राइवेट कोचिंग संचालक और शिक्षक परेशान हैं। उनके सामने आर्थिक संकट उत्पन्न हो गया है। आर्थिक तंगी से गुजर रहे शिक्षक और प्राइवेट कोचिंग एसोसिएशन के अध्यक्ष उमेश श्रीवास्तव ने खुद सब्जी का ठेला लगाकर अपना विरोध जताया।

उमेश श्रीवास्तव का कहना है कि लॉकडाउन के बाद से उनकी आर्थिक हालत खराब है और परिवार का भरण पोषण करना दूभर हो गया है। उमेश का कहना है मैं सरकार का ध्यान इस ओर दिलाना चाहता हूं कि हम लोगों के सामने आर्थिक संकट की स्थिति है। घर चलाना मुश्किल हो गया है।

गौरतलब है कि 22 मार्च से जिले की कोचिंग और निजी स्कूल बंद है और निजी स्तर पर आने वाले शिक्षक बेरोजगार हो गए हैं। सरकार ने सब कुछ खोल दिया है लेकिन अभी प्राइवेट स्कूल और कोचिंग संस्थान नहीं खोले गए हैं। इसके कारण निजी स्कूल संचालक शिक्षक आर्थिक तंगी से परेशान है और जीविकोपार्जन के लिए उन्हें सब्जी का ठेला लगाना पड़ रहा है। उमेश श्रीवास्तव ने कहा कि वह सरकार और प्रशासन तक यह बात पहुंचाना चाहते हैं कि उनके सामने आर्थिक संकट और सरकार को उनकी भी सुध लेनी चाहिए।

Download
Download
Download
Download
Download
Download
Show More

Related Articles

Back to top button